free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / पति के दुनिया छोड़ते ही पत्नी ने भी दे दी जा,न,प्यार के लिए कर दिया अपना बलिदान

पति के दुनिया छोड़ते ही पत्नी ने भी दे दी जा,न,प्यार के लिए कर दिया अपना बलिदान

दोस्तों अब क्या क्या बताए जाए इन सेनिको के बारे में इन के लिय जितना लिखा जए और जितना बोला जाए उतना ही कम है दोस्तों जो आज हम चेन से रहते है या सोते है तो अपने इन सेनिको के वाजे से दोस्तों हमारी और हमारी देश की रछा करने के लिय 24 घंटे तैनात रहते है और ओ अपने देश के लिय अपनी जान की प्रवह ना करते हुए अपनी जान दे देते है और उनके लिय सबसे पहले उनकी माँ भारत है तो दोस्तों आप को एक बात और बताने जा रहे है एक ऐसे जवान के बारे में जो अब हमारे बीच नही रहे और कुछ बिवाद कि वाजे से दी अपनी जान !

सैनिक अरविंद चौहान और उनकी पत्नी आरती की फाइल फोटो।

कश्मीर में तैनात सैनिक पति का शव फंदे से लटका मिलने के छह दिन बाद एटा में रह रही पत्नी ने भी सुसाइड कर लिया। महिला का शव भी फंदे से लटका मिला है। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घटनास्थल का मुआयना करने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। प्राथमिक जांच में आत्महत्या के पीछे की जो वजह सामने आई है, वो बेहद ही चौंकाने वाली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोतवाली देहात के गांव बिजोरी के रहने वाले सैनिक अरविंद चौहान सेना में जवान थे। उनकी कश्मीर में तैनाती थी।

बताया जा रहा है कि अरविंद का अपनी पत्नी आरती से किसी बात पर विवाद चल रहा था। इस विवाद के चलते आरती अपने मायके में रह रही थी। दोनों की शादी को करीब ढाई साल ही हुआ था। आरती को सूचना मिली थी कि उसके पति अरविंद चौहान ने सेना में अपने शिविर के भीतर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। अरविंद का शव दस अगस्त को एटा में उसके गांव बिजौरी लाया गया था। आरती भी अपने पति की अंत्येष्टि में शामिल होने पहुंची थी, लेकिन उसके ससुरालियों ने पति का आखिरी बार चेहरा भी नहीं देखने दिया।

पति की मौत से व्यथित आरती इससे बेहद आहत थी। परिजनों के मुताबिक उन्होंने आरती को इस दुख की घड़ी से निकलने के लिए हर तरह से समझाया। आरती कहती थी कि वो कुछ गलत नहीं करेगी, लेकिन उसने भी पति की तरह फंदा लगाकर जान दे दी। घरेलू विवाद ने हंसते खेलते परिवारों को गम के अथाह सागर में डूबा दिया।

About Upasana Thakur

Leave a Reply

Your email address will not be published.