free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / 52 सेकंड में पकड़ी 100 किलोमीटर प्रति घंटा रफ्तार,बुलेट ट्रेन को पछाड़ आगे निकली वंदे भारत

52 सेकंड में पकड़ी 100 किलोमीटर प्रति घंटा रफ्तार,बुलेट ट्रेन को पछाड़ आगे निकली वंदे भारत

मित्रों वैसे तो आप लोगों को पता ही होगा कि हमारे देश में जब से मौजूदा सरकार आयी है तब से हमारे देश का काफी ज्यादा विकास हुआ है और हमारा भारत आत्मनिर्भर बना है पर हमारे देश ने एक और कमियाबी हासिल की है जी हां इस देश में यात्रियों को किसी प्रकार की परेशानी न हो इस वजह से ट्रेन चलाई गई जिससे यात्री आसानी से अपनी यात्रा कर सके पर आज के दौर में हर इंसान चाहता है कि वह आसानी से एक  जगह से दूसरी जगह पहुँच सके. ऐसे में बुलेट ट्रेन के बाद वंदे भारत ट्रेन भारत के लोगों का सपना रहा है. भारत में आने वाली सभी सरकारों ने चुनावो से पहले कई बार इस मुद्दे पर वोट भी बटोरे, किन्तु वंदे भारत ट्रेन लाने में नाकाम रहे अभी फिर से एक बार भारत में वंदे भारत ट्रेन चलाने का सपना पूरा हो गया है तीसरी और नई वंदे भारत ट्रेन ने ट्रायल रन में नया रिकॉर्ड बना लिया है पूरी तरह देश में बनी और डिजाइन की गई सेमी हाईस्‍पीड ट्रेन वंदे भारत,बुलेट ट्रेन से भी आगे निकली इस खबर के बारे में विस्तार से जानने के लिए लेख को विस्तार से पढ़े.

वाह! बुलेट ट्रेन से आगे निकली वंदे भारत, 52 सेकंड में पकड़ी 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार, देखें वीडियो

दरअसल वंदे भारत ने बुलेट ट्रेन की स्‍पीड को भी पीछे छोड़ दिया है केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्‍णव ने एक वीडियो शेयर कर बताया है कि कैसे भारत की इस ट्रेन ने स्‍पीड पकड़ने के मामले में बुलेट ट्रेन को भी पीछे छोड़ दिया है केंद्रीय मंत्री अनुसार, भारत की सेमी हाई स्‍पीड वंदे भारत ट्रेन महज 52 सेकंड में शून्‍य से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ लेती है वहीं, जापान में बनी बुलेट ट्रेन 100 किलोमीटर की स्‍पीड पकड़ने में 55 सेकंड का समय लेती है केंद्रीय मंत्री ने मेड इंडिया कैप्‍शन के साथ ट्विवटर पर वीडियो शेयर किया है उन्‍होंने कहा कि ट्रेन की स्‍पीड 180 किलोमीटर के पार जाने के बावजूद गिलास का पानी बाहर नहीं छलक रहा यह भारत की एडवांस्‍ड तकनीक का नायाब नमूना है हमारी वंदे भारत ट्रेन पूरी तरह देश में डिजाइन और बनाई गई है ट्रेन की स्‍पीड का यह ट्रायल राजस्‍थान के कोटा से नागदा रेलवे स्‍टेशन के बीच किया गया, जहां कई बार चलती ट्रेन के अंदर मोबाइल फोन की स्‍क्रीन पर स्‍पीडोमीटर से ट्रेन की गति नापी गई है इसमें दिखाया है कि स्‍पीडोमीटर पर ट्रेन की गति 180 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 183 किलोमीटर की रेंज में दिख रही है.

मिली जानकारी के मुताबिक ट्विटर पर शेयर किए गए इस वीडियो पर तमाम यूजर्स के कमेंट आ रहे हैं और रेलवे व भारत सरकार की इस उपलब्धि पर बधाई दी जा रही है पेटीएम के फाउंडर विजय शेयर शर्मा ने इसे गौरव करने वाला पल बताया और रेल मंत्री अश्विनी वैष्‍णव के पोस्‍ट पर खुशी जताई उन्‍होंने लिखा, यह गौरव करने वाला पल है कि पूरी तरह भारत में बनी हमारी वंदे भारत ट्रेन ने शून्‍य से 100 किलोमीटर की स्‍पीड पकड़ने के मामले में बुलेट ट्रेन को भी पीछे छोड़ दिया है वंदे भारत एक्‍सप्रेस जिसे ट्रेन 18 के नाम से जाना जाता है, यह भारत की सेमी हाईस्‍पीड इंटरसिटी ईएमयू ट्रेन है और मार्च, 2022 से भारतीय रेलवे इसे दो रूट पर चला रही है एक दिल्‍ली से श्री माता वैष्‍णों देवी कटरा के लिए चलती है और दूसरी नई दिल्‍ली से वाराणसी के लिए जाती है पूरी तरह भारत में विकसित इस ट्रेन में सेल्‍फ प्रोपेल्‍ड इंजन लगा है, जो बोगी में ही जुड़ा हुआ है इसके सभी दरवाजे ऑटोमेटिक हैं और कोच में लगी चेयर 180 डिग्री पर रोटेट हो सकती हैं.

About Lakshmi