free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / अनोखा गाँव जहाँ लड़कियों को 5 दिन तक बिना कपड़े के रहने को किया जाता है मजबूर, वजह जान कर

अनोखा गाँव जहाँ लड़कियों को 5 दिन तक बिना कपड़े के रहने को किया जाता है मजबूर, वजह जान कर

दोस्तों हर देश और उसके राज्य के अलग-अलग रीती -रिवाज और परम्परा होते है .जो सदियों से चले आ रहे है और लोग उन्हें आज भी निभा रहे है .ऐसा ही एक देश है भारत जंहा के हर राज्य के अपने रीती रिवाज है .जो सदियों से चले आ रहे है और सभी को पसंद आते है .लेकिन कुछ रिवाज ऐसे भी होते है जिसे जानकर सभी हैरान हो जायेंगे . आखिर कौनसे से है वो रिवाज और देश के कौन से राज्य में आज भी उन्हें निभाया जाता है .

हिमाचल के गाँव की अजीबोगरीब रस्म

हिमाचल के गाँव मणिकर्ण घाटी के पीणी गाँव में एक ऐसी रस्म है जहाँ पर साल में पांच दिन ऐसे होते है जिसमे महिलाओं को बिना कपडे के रहना पड़ता है यह रिवाज काफी अजीबोगरीब है लेकिन इस गाँव में इस रिवाज को आज भी फॉलो किया जाता है।आज भी महिलाएं सावन के महीने में अपने पति से दूर रहती है और पांच दिन बिना कपड़ों के रहती है उनका मानना है की इस तरह से अगर कोई महिला नहीं रहती है तो उसके घर में अशुभ घटना होती है।

आज बदल गई है यह रस्म

लेकिन पिछले साल जब रिपोर्टर लोग इस गाँव में गए तो यहाँ के युवाओं ने इस रस्म में कुछ बदलाव किये है इसमे महिलाओं को अब बिना कपड़ों के नही रखा जाता है उन्हें पारदर्शी कपडे दिए जाते है। जिसकी मदद से वह इस रस्म को पूरा करती है बाकी सभी काम उसी तरह होते है जैसे पहले होते थे।

पाप से मुक्ति मिलती है

हिमाचल के इस गाँव के अनुसार ऐसा करने से पाप से मुक्ति मिलती है और पांच दिन हम बिना किसी पाप के रह जाते है यह एक भगवान को खुश करने का तरीका इसे सभी महिलाओं को फॉलो नही करना पड़ता है।यह सिर्फ शादीशुदा महिलाओं पर ही लागू होता है लेकिन एक परंपरा ऐसी भी है देश में जहाँ अगर कोई लड़का लड़की को देखने जाता है तो वह उसे कपड़े उतारकर देखता है।

इस परम्परा के अनुसार अगर महिला उसे अंदर से अच्छी नहीं लगती है तो वह उसे पंसद नहीं करता है। ऐसे में महिला हर एक देखने वाले पुरुष को अपना जिस्म दिखाती है ऐसी परंपरा भारत के बिहार के एक छोटे से गाँव में है।आस-पास की ऐसी ही खबरों के लिए हमें फॉलो करें और इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि अन्य लोगों को भी यह जानकारी मिल पाए।

About Lakshmi

Leave a Reply

Your email address will not be published.