free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / सावन में महाकाल के यहां जाना चाह‍िए,ऐसा नोट लिख पुजारी ने ड्रिल मशीन से काट ली अपनी गर्दन

सावन में महाकाल के यहां जाना चाह‍िए,ऐसा नोट लिख पुजारी ने ड्रिल मशीन से काट ली अपनी गर्दन

मित्रों भगवान के प्रति अपनी अपनी आस्था होती है और भगवान को अलग अलग धर्म में अलग अलग तरीके के मानते है भगवान व भक्त का रिश्ता सबसे अलग होता है इन दोनों की बीच कोई नहीं आ सकता है। भक्त को संकट में देखते हुए भगवान स्वमं ही उनके संकट हरने के लिए पहुंच जाते हैं और भक्त को कभी भी किसी तरह का कष्ट नहीं होने देते अहंकार किसी के लिए भी अच्छा नहीं होता, फिर चाहे वह भगवान का भक्त हो या न हो लेकिन अगर कोई भक्त होकर भी अहंकार करे तो ईश्वर उसका जल्द अभिमान  चूर चूर कर देते हैं। ग्रंथ और पुराणों में इस बात का उल्लेख मिलता है कि भक्ति में कभी भी अभिमान की भावना नहीं होनी चाहिए अन्यथा भक्ति का फल नहीं मिलता भगवान का भजन अर्चना उपासना ध्यान आदि करना भगवान की भक्ति है। आज हम आपको एक एक ऐसी ही घटना के बारे में बताने वाले है जिसे जानकर हैरान हो जायेगे आगे जानने के लिए पोस्ट के अंत तक बने रहिये

दरअसल मिली जानकारी के मुताबिक मृतक घर में मंदिर बनाकर पूजा पाठ करता था और आज उसने यह आत्मघाती कदम उठा लिया क्या एक भक्त ऐसा भी कर सकता है संजय एक ट्रांसपोर्ट कम्पनी में काम करते थे, लेकिन पिछले 2 साल से वह काम छोड़ कर घर पर ही थे संजय अपने घर में छत पर मंदिर बना कर पूजा पाठ किया करते थे संजय द्विवेदी भगवान भोलेनाथ के पुजारी थे और प्रत्येक वर्ष कांवड़ भी ले जाते थे, लेकिन इस बार संजय कावड़ तो नहीं ले गए, लेकिन ऐसा आत्मघाती कदम उठाया जो परिजनों को जिंदगी भर सातता रहेगा संजय के परिवार में पत्नी तीन बेटे और एक बेटी है यह घटना यूपी के हरदोई में खुदकुशी का एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है शख्स ने कमरे का दरवाजा बंद कर ग्राइंडर से खुद का गला काटकर खुदकुशी कर ली कमरे का दरवाजा तोड़ा गया तो सभी हैरान रह गए

यह ममला यूपी के हरदोई जिले में थाना कोतवाली शहर इलाके के हरीपुरवा गांव का है 50 वर्षीय संजय द्विवेदी ने अपने घर के अंदर कमरे का दरवाजा बंद कर ड्रिल मशीन यानी ग्राइंडर से खुद का गला काटकर आत्महत्या कर ली घर मे पत्नी के दरवाजा खटखटाने के बाद भी काफी देर तक जब दरवाजा नहीं खुला तो पत्नी ने बेटे अभिषेक अनुज और हिमांशु को सूचना दी जिसके बाद मौके पर पुलिस को बुलाया गया और कमरे का दरवाजा तोड़ा गया तो हर कोई हैरान रह गया मृतक ने गला काटकर खुदकुशी कर ली थी और आत्महत्या को लेकर एक सुसाइड नोट भी छोड़ा था बरामद सुसाइड नोट में मृतक ने मौत की वजह जो लिखी उसने सभी को हैरान कर दिया मृतक संजय कुमार द्विवेदी ने सुसाइड नोट में लिखा 3200 रुपए प्रमोद की दुकान पर जमा है ले लेना संजय सावन का महीना महाकाल के यहां जाना चाहिए और बुला रहे हैं हमारी मृत्यु में किसी का भी हाथ नहीं है और हमारे परिवार वाले बेगुनाह हैं आशा करते हैं कि आप लोग हमें माफ करना जय जय श्री महाकाल की जय हालांकि पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और अग्रिम कार्रवाई में जुटी है उनकी मौत से परिवार सदमे में है और सभी का रो रो कर बुरा हाल है संजय की खुदकुशी से पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है

About Lakshmi

Leave a Reply

Your email address will not be published.