free tracking
Breaking News
Home / जरा हटके / कार के अन्दर बंद हो गयी रानी तो 20 हज़ार मधुमक्खियों ने कार पर किया अटैक, 2 दिन तक करती रही कार का पीछा

कार के अन्दर बंद हो गयी रानी तो 20 हज़ार मधुमक्खियों ने कार पर किया अटैक, 2 दिन तक करती रही कार का पीछा

दोस्तों आपने अक्सर कंही न कंही मधुमक्खियों  के छत्ते जरुर  देखे होगे .इन्हें जो जगह  पसंद आती है ये वही अपना घर बना लेती है . इनके काटने के डर से कभी कभी लोग इनके छत्तों को जला देते है जिसके बाद ये नई जगह खोजने लगती है. आज हम आपको उन मधुमक्खियों  के बारे में बताने वाले है जिन्हें एक कार बेहद पसंद आगयी .और दो दिन तक ये इसी कार पर चिपकी रही ये नजारा देख हर कोई हैरान था .इन मधुमक्खियों को हटाने के वाबजूद भी ये फिर इस कार पर आ जाती .

दरअसल ब्रिटेन के वेल्स में करीब 20 हज़ार मधुमक्खियों ने एक कार का दो दिन तक पीछा किया. इतनी बड़ी संख्या में मधुमक्खियों को कार का पीछा करता देखकर लोग हैरान थे. इन्हें पहले दिन बीकीपर (Bee Farming) की मदद से भगाया भी गया, लेकिन मधुमक्खियां वहां से जाने को तैयार नहीं थी. वे दोबारा उसी कार के पास पहुंच गईं. मधुमक्खियों के कार के प्रति प्रेम को देखकर अगर आप सोच रहे हैं कि उन्हें कार पसंद थी, तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है. दरअसल कार के अंदर उनकी रानी मधुमक्खी रुकी हुई थी, ऐसे में मधुमक्खियों का विशाल झुंड उसकी सुरक्षा के लिए कार के पीछे-पीछे जा रहा था. ये मधुमक्खियों का मजबूत कॉलोनी सिस्टम ही है कि ये झुंड वहां से हिलने को तैयार नहीं था.

कार पर डेरा जमाए थीं मधुमक्खियां


ये दिलचस्प वाक्या वेस्ट वेल्स इलाके का है. CNN की रिपोर्ट के मुताबिक 68 साल की कैरोल होवर्थ (Carol Howarth) को भनक भी नहीं थी कि उनकी कार पर पीछे की तरफ हज़ारों की संख्या में मधुमक्खियां चिपकी हुई थीं. वे कार पार्क करके शॉपिंग के लिए चली गईं. जब वे वापस आईं, उनकी गाड़ी के पिछले हिस्से पर मधुमक्खियां चिपकी हुई थीं. इतना बड़ा झुंड देखकर किसी के भी हाथ-पांव फूल जाएं. उन्हें शुरुआत में तो उनके होने का पता भी नहीं चला, लेकिन बाद में जब उन्होंने इस झुंड को देखा तो बीकीपर की मदद से इन्हें हटाने की कोशिश की.

हटाने के बाद फिर लौट आया झुंड


बीकीपर ने अपने ही तरीके से मधुमक्खियों के झुंड को कार से हटाकर एक बॉक्स में डाल दिया. उस दिन तो मधुमक्खियां चली गईं, लेकिन अगला दिन होते ही करीब 20 हज़ार मधुमक्खियों का झुंड फिर से उनकी कार पर जा चिपका. विशेषज्ञों के मुताबिक मधुमक्खियों की कॉलोनी जब छत्ता बदलती है, तो रानी मधुमक्खी के पीछे-पीछे पूरा झुंड चल पड़ता है. ऐसे में माना जा रहा है कि कार में रानी मधुमक्खी के कहीं फंसे होने की वजह से ये झुंड कार के पीछे 2 दिन तक घूमता रहा. इसके लिए कार्ड की मदद से रानी मधुमक्खी को निकालने की कोशिश भी की गई, लेकिन फिर भी वो बाहर नहीं आ पाई. यही वजह है कि मधुमक्खियों ने कार का पीछा नहीं छोड़ा.

 

About Lakshmi

Leave a Reply

Your email address will not be published.