free tracking
Breaking News
Home / धार्मिक / मासिक धर्म से जुड़े अजीबो गरीब रीतिरिवाज,कंही चांटे मारे जाते तो कंही पिया जाता है पीरियड्स का खून

मासिक धर्म से जुड़े अजीबो गरीब रीतिरिवाज,कंही चांटे मारे जाते तो कंही पिया जाता है पीरियड्स का खून

मित्रों इस दुनिया में कई अजीबोगरीब परंपराये जिसे सुनकर आप भी सोचोगे क्या ऐसा भी कुछ है जी हां आज हम आपको एक ऐसी खबर से रूबरू करवाने वाले जोकि मासिक धर्म से जुडी हुयी है .मासिक धर्म एक ऐसी क्रिया जिससे हर लड़की और महिला को गुजरना होता है। महीने के वो दिन हर औरत के लिए अलग होते हैं। मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को कमर  दर्द, सिरदर्द और ऐंठन जैसे समस्याओ से गुजरना पड़ता है । वहीं कुछ महिलाएं पीरियड्स को आसानी से हैंडल कर लेती  हैं। जबकि अन्य इसे कष्टदायी पीड़ा के साथ ही झेलती हैं। कुछ महिलाओं को इन दिनों में काफी तेज दर्द सहना पड़ता है तो कुछ के लिए यह सामान्य होता है। पर लगभग हर औरत पीरियड के दौरान बेचैन रहती हैं बड़े दुर्भाग्य की बात तो यह है कि मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को शरीरिक पीङा सहन करने के साथ-साथ सामाजिक पीड़ा को भी सहन करना पङता है। आज हम आपको पीरियड्स से जुड़ी उन अजीब परंपराओं के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप सोच में पड़ सकते हैं। इस खबर के बारे में विस्तार से जानने के लिए पोस्ट के अंत तक बने रहिये

माहवारी से जुड़ी अजीब परंपराः यहां पिया जाता है पीरियड्स का खून

दरअसल हिंदू धर्म में तो मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को सलाह दी जाती है कि रसोई घर में काम न करें, संभोग न करें, ना ही वो मंदिर में प्रवेश करें, इसके अलावा उन्हें किसी भी धर्मिक और पवित्र कार्य में भाग लेना अथवा छूने की आज्ञा नहीं दी जाती है। पीरियड्स एक बहुत ही नेचुरल प्रोसेस है लेकिन आज भी दुनिया भर में पीरियड्स को लेकर कई सारी भ्रांतियां मौजूद है। सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि कई देशों में पीरियड्स के दौरान महिलाओं के साथ बद से बदतर व्यवहार किया जाता है। कहीं उन्हें खूब सारे चांटे मारे जाते हैं, तो कहीं पर पहली बार पीरियड होने पर उसका खून तक किया जाता है तो चलिए आज हम आपको बताते हैं।

यहां पिया जाता है पीरियड ब्लड
पश्चिम बंगाल के कुछ इलाकों में ऐसी परंपरा है कि जब लड़की को पहली बार पीरियड आते हैं तो इससे बहुत बड़े जश्न के रूप में मनाया जाता है। उस दौरान पीरियड्स के ब्लड को दूध और नारियल के तेल में मिलाकर पिया जाता है. ऐसा मानना है कि इसे पीने से शरीर में ताकत आती है।

यहां मारे जाते हैं लड़कियों को चाटे
भारत के अलावा इजराइल में भी पीरियड्स को लेकर अजीबोगरीब रस्में निभाई जाती हैं। यहां पर लड़की को पहली बार पीरियड आने पर उसके चेहरे पर खूब थप्पड़ मारे जाते हैं। कहा जाता है कि इससे गाल सुंदर और लाल होते हैं।

यहां पैड को ऐसे ना फेंके
मलेशिया में कई जगह पीरियड के दौरान पैड्स यूज करने के बाद महिलाओं को इसे धोना पड़ता है और इसके बाद वह इसे बाहर फेंक सकती हैं। ऐसी मान्यता है कि यहां बिना धुले पैड फेंकने से भूत आकर्षित होते हैं।

खाने-पीने और बैठने की मनाही 
अफगानिस्तान में पीरियड्स के दौरान मांस, चावल, सब्जियां, खट्टा खाना, ठंडा पानी पीने की मनाही होती है। इतना ही नहीं लड़कियों को नहाने और गीली जगह पर बैठना भी मना होता है।

महिला छू ले तो होता है शुद्धीकरण 
नेपाल में पिछड़े इलाकों में आज भी ऐसी मान्यता है कि पीरियड्स के दौरान अगर महिला किसी पुरुष को छू लेती है तो उसको धार्मिक अनुष्ठान के साथ उसका शुद्धीकरण किया जाता है, क्योंकि कहते हैं कि इस समय महिलाओं के छूने से पुरुष अशुद्ध हो जाते हैं।

यहां उतारी जाती है लड़की की आरती 
सब जगह पीरियड्स को लेकर गलत या क्रूर व्यवहार ही नहीं किया जाता, बल्कि भारत में कर्नाटक में कई जगह पहली बार लड़की के पीरियड शुरू होने पर उसे दुल्हन की तरह तैयार किया जाता है और महिलाएं लड़की की आरती उतारती है। इस तरह की प्रथा आंध्र प्रदेश और केरल में भी निभाई जाती है। जहां पीरियड्स को अभिशाप नहीं बल्कि अच्छा माना जाता है।

About Lakshmi