free tracking
Breaking News
Home / जरा हटके / अंग्रेज ने किया अपमान तो सरदार ने खरीद ली हर रंग की रोल्स रॉयल्स

अंग्रेज ने किया अपमान तो सरदार ने खरीद ली हर रंग की रोल्स रॉयल्स

दोस्तों कभी कभी इंसान की जिन्दगी में ऐसे हालात बन जाते है . जिसका सामना कुछ लोग  नही कर पाते और हालात के  आगे घुटने टेक देते है .लेकिन इस दुनिया में कुछ ऐसे भी लोग है जो ऐसे हालातो से लड़ झगड़ कर आगे बढ़ते है और  जिन्दगी में कुछ कर दिखाने की क्षमता रखते है . क्योंकि ऐसे लोगो को अपना मान सम्मान जान से भी प्यारा होता है .आज हम आपको इंग्लैंड के रहने वाले एक ऐसे ही शख्स के बारे में बताने वाले है .जिन्होंने अपना मान सम्मान बनाये रखने के लिए कुछ ऐसा कर दिखाया जो पूरी दुनिया के लिए एक मिसाल है .

आन बान शान के लिए कर दिया था चैलेंज

ये कहानी है इंग्लैंड के एक अरबपति सरदार रूबेन सिंह की. रूबेन सिंह का नाम पिछले काफी समय से सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है. AlldayPA कंपनी के मालिक रूबेन सिंह एक मेहनती बिजनेसमैन तो हैं ही इसके साथ ही वह अपनी आन बान शान को सबसे ऊपर रखने वाले शख्स भी हैं. इसी मान सम्मान को सबसे ऊपर रखने के कारण वह आज पूरी दुनिया में जाने जा रहे हैं.  दरअसल एक बार एक अंग्रेज ने उनकी पगड़ी को लेकर नस्लभेदी टिप्पणी कर दी थी. ये बात रूबेन सिंह को लग गई और रूबेन सिंह ने अंग्रेज़ को चैलेंज करते हुए कहा कि उनके पास जितने रंग की पगड़ी रहेगी, वह उतनी ही रॉल्स रॉयस गाड़ियों के मलिक रहेंगे.

ज़िंदगी में देखे कई उतार चढ़ाव

रुबेन सिंह की संपत्ति का अंदाज आप इस बात से लगा सकते हैं कि उन्हें ‘British Bill Gates’ के नाम से संबोधित किया जाता है. मगर हमेशा समय एक जैसा नहीं रहता, उतार चढ़ाव सबके जीवन में आता है. रुबान सिंह के जीवन में भी उतार चढ़ाव आए. एक समय उनकी स्थिति इतनी खराब हो गई कि उन्हें अपना 10 मिलियन पाउंड से अधिक का कारोबार 1 मिलियन पाउंड में बेचना पड़ा.

नहीं भूले अपनी सभ्यता

भारतीय मूल के रुबान सिंह के पिता 1960 में दिल्ली से ब्रिटेन गए थे. यहीं रूबेन का जन्म हुआ और फिर वह वहीं के हो कर रह गए. हालांकि वो जन्मे और पाले बढ़े भले ही ब्रिटेन में लेकिन उन्होंने अपनी सभ्यता और अपने इतिहास को कभी नहीं भुलाया. कहा जाता है कि 17 साल की उम्र में अपना कारोबार शुरु करने वाले रुबेन सिंह 90 के दशक में इंग्लैंड में कपड़ों के बिजनेस के बादशाह थे. उस दौर में उनका ब्रांड ब्रिटेन के सबसे मशहूर ब्रांड्स में से एक था.

पूरा कर दिया चैलेंज

ब्रिटिश बिजनेसमैन की नस्लभेदी टिप्पणी के बाद रूबेन ने ठान लिया था कि उनके पास जितनी रंग की दस्तारें हैं वह उतने ही रंग की रॉल्स रॉयस रखेंगे. बता दें कि आज उनके पास कई रॉल्स रॉयस समेत कई दूसरी महंगी गाड़ियां हैं.कुछ साल पहले ही रूबेन सिंह ने ब्रिटेन में 50 करोड़ रुपये से अधिक की 6 ब्रांड की नई रोल्स-रॉयस लग्जरी कारें खरीदी हैं, जिनमें से 3 फैंटम लग्जरी सेडान और 3 हाल ही लॉन्च हुई कलिनन लग्जरी एसयूवी शामिल थीं.

खुद कंपनी के सीईओ आए थे गाड़ियों की चाबियां देने

उन्होंने अपने इस कलेक्शन को jewels collection by singh का नाम दिया. रूबेन ने अपनी नई कारों का नाम माणिक, नीलम और पन्ना रखा था. खास बात ये थी कि जब रूबेन ने अपनी पगड़ियों के रंग की रोल्स रॉयस खरीदने का चैलेंज पूरा किया तो कार कंपनी के सीईओ टॉर्स्टनन मुलर ओटवॉस खुद गाड़ियों की चाबी देने रूबेन सिंह के पास आए थे.

About Lakshmi

Leave a Reply

Your email address will not be published.