free tracking
Breaking News
Home / देश दुनिया / आसमान में राफेल दिखाएंगे ताकत, देखेगी दुनिया

आसमान में राफेल दिखाएंगे ताकत, देखेगी दुनिया

अंबाला एयरफोर्स स्टेशन पर बुधवार को राफेल की तैनाती हो चुकी है। सुरक्षा कारणों और महामारी के इस दौर में पहली बार ऐसा हुआ है, जब एयरफोर्स के बेड़े में बहुत ही सादगी के साथ किसी लड़ाकू विमान को शामिल किया गया है। वहीं इंडियन एयरफोर्स 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस समारोह के बाद राफेल का फिर से इंडक्शन (प्रवेश) समारोह आयोजित करने पर विचार कर रही है। सूत्रों ने बताया कि समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शामिल हो सकते हैं।

सुरक्षा कारणों के मद्देनजर राफेल विमानों की लैंडिंग अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के पूर्वी छोर पर बसे सैन्य क्षेत्र से करवा दी गई। दूसरा, आसमान में घने बादल छाए थे। इसलिए अंबाला के लोग भी शानो-शौकत के साथ राफेल की लैंडिंग का दीदार नहीं कर पाए। इंडक्शन समारोह में आसमान में पांचों राफेल विमान अपनी ताकत का प्रदर्शन भी करेंगे। जिस का दीदार आसमान में लोग भी कर सकेंगे।

उधर, एयरफोर्स के एक अफसर ने बताया कि फॉर्मल इंडक्शन समारोह अभी आयोजित किया जाना है। उन्होंने बताया कि इंडियन एयरफोर्स स्वतंत्रता दिवस समारोह के बाद राफेल का औपचारिक इंडक्शन समारोह आयोजित करने पर विचार कर रही है। समारोह में कौन-कौन विभूतियां शामिल होंगी, यह अभी तय नहीं है। अगस्त के पहले हफ्ते के बाद फॉर्मल इंडक्शन सेरेमनी का शेड्यूल जारी किया जाएगा।

आसमान में राफेल दिखाएंगे ताकत, देखेगी दुनिया
फ्रांस से लेकर अंबाला एयरफोर्स स्टेशन तक पांचों राफेल विमानों ने करीब 8364 किलोमीटर का सफर तय किया। 29 जुलाई को अंबाला पहुंचने की सूचना के बाद लोग भी देश की शान राफेल के दीदार के लिए अपने घरों से निकलकर एयरफोर्स स्टेशन के साथ सड़कों और अपनी छतों पर डट गए थे।

उत्साहित है सरकार, मगर अंबाला नहीं पहुंचा कोई बड़ा नेता
राफेल को लेकर काफी समय से सियासत गरमाई हुई है। केंद्र जहां राफेल के आगमन पर खासा उत्साहित हैं। तो वहीं विपक्ष के कुछ नेता राफेल के रेट और मेक इन इंडिया के मुद्दे पर सरकार को घेरे हुए हैं। मगर इन सारी बातों से परे सरकार राफेल के वेलकम के प्रति उत्साहित है। सूत्रों ने बताया कि इसी के चलते राफेल के औपचारिक प्रवेश समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शामिल होने अंबाला आ सकते हैं। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी इस समारोह का हिस्सा बन सकते हैं। इन विभूतियों का आगमन शेड्यूल फिलहाल अभी फाइनल नहीं है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.