free tracking
Breaking News
Home / जरा हटके / एलियंस को लेकर कईं पायलेट्स का दावा, बहुत बार उन्हें देख चुके है लेकिन नौकरी खोने के डर से रहते है खामोश

एलियंस को लेकर कईं पायलेट्स का दावा, बहुत बार उन्हें देख चुके है लेकिन नौकरी खोने के डर से रहते है खामोश

दोस्तों क्या एलियन सच में होते है. यदि होते है तो कहाँ रहते है असलियत में कैसे दिखते है .क्या कभी वो इस धरती पर आये और उन्हें कभी किसी ने देखा . हमने तस्वीरो और फिल्मो में एलियंस को देख कर उनकी एक छवि बना ली है कि एलियंस ऐसे दिखते है .यदि कभी एलियंस हमारे सामने आजाये तो क्या हम उन्हें पहचान पाएंगे . एलियंस से जुड़े बहुत से सवाल और रहस्य है जिन्हें आज तक कोई नही जान पाया . लेकिन आज हम आपको ऐसी जानकारी देने वाले है जिसे जानकार आप हैरान हो जाओगे . एलियंस को लेकर कुछ पायलेट्स ने दावा किया है कि वो बहुत बार उन्हें देख चुके है .लेकिन बहुत से कारण है जिनकी वजह से वो किसी से इसका जिक्र नही करते .एक तो कोई उनका विशवास नही करेगा और दूसरा इस कारण उनकी नौकरी को खतरा हो सकता है .

एक पायलट का कहना है कि एक बार उनके सहयोगी ने यूएफओ (UFO) देखा था और इसकी जानकारी भी उन्होंने उच्च अधिकारियों को दी थी। लेकिन बाद में उन्होंने मेरे एयरलाइन के सहयोगी को डॉक्टर को दिखाने की सलाह दी थी। ऐसे में अब यूएफओ पर नजर पड़ने पर इसके बारे में किसी को नहीं बताया जाता तब तक की ठोस सबूत नहीं मिल जाते हैं।

पायलट का कहना है कि, जब भी हम किसी यूएफओ के बारे में बताने की सोचते हैं या फिर कहना चाहते हैं तो उच्च अधिकारियों को लगता है कि हम सिर्फ एलियंस का ही जिक्र कर रहे हैं। हालांकि हमेशा ऐसा नहीं होता। कई बार पायलट हवाई घटनाओं के लिए यूएफओ जैसे शब्द का इस्तेमाल करते रहते हैं। लेकिन जब भी पायलट के मुंह से यूएफओ शब्द निकलेगा तो लोग उसे कहने लगते हैं कि या तो वह नशे में है या फिर उसने ड्रग्स लिया है।

ऐसे में इन पायलेट्स ने जानकारी साझा करने के लिए एक ऑनलाइन मंच बनाया है जिसके एक सदस्य का कहना है कि, उसके कई साथी यूएफओ देख चुके हैं। इस यूएफओ के बारे में कई बार पायलट अपने सहयोगी से कह देते हैं लेकिन वे कभी भी इसकी आधिकारिक जानकारी या फिर शिकायत उच्चाधिकारियों से नहीं करते। कई बार आपके पास गवाह होते हैं तो आप आसानी से बच सकते हैं नहीं तो आपको अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ सकता है। हालांकि जिस व्यक्ति के ऑफिस की खिड़की से 37 हजार फीट पर हो तो ऐसे में उसको कई फायदे होते हैं इसलिए ज्यादातर पायलेट्स इसके बारे में कम ही बात करते हैं।

एक अन्य पायलट ने बताया कि, करीब 30 साल पहले वह सिंगापुर से ब्रिसबेन के लिए एक कार्गो जेट उड़ा रहे थे। इस दौरान उन्होंने यूएफओ देखा था। स्थानीय समय के अनुसार इस समय करीब 2 बजे थे और उनके सहयोगी ने एयर ट्रेफिक कंट्रोल से पूछा था कि क्या हमारे पास आपको कोई विमान नजर आ रहा है। ऐसे में उनका जवाब आया था कि नहीं। लंबे समय तक उनको कुछ दिखाई नहीं दिया और फिर वह अचानक ही गायब हो गया।

इसके अलावा अमेरिकन एयरलाइंस के पायलट ने भी दावा किया था कि उसने बादल में कुछ हिलती हुई चीज देखी थी। इस दौरान पायलट ने एयर ट्रेफिक कंट्रोल से पूछा कि क्या हमारे पास कुछ चीजें आपको उड़ती हुई दिखाई दे रही है जो बेलनाकार वस्तु है और क्रूज मिसाइल की तरह दिख रही है। उन्होंने कहा कि नहीं। हालांकि, थोड़े दिनों बाद ही है मामला पूरी तरह से शांत हो गया।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.