free tracking
Breaking News
Home / धार्मिक / सुहागिनें भूलकर भी न करे करवा चौथ पर ये काम, नही तो अधूरा रह जायेगा व्रत

सुहागिनें भूलकर भी न करे करवा चौथ पर ये काम, नही तो अधूरा रह जायेगा व्रत

मित्रों हिंदू धर्म में सुहागिनों के लिए करवा चौथ का व्रत काफी महत्वपूर्ण माना जाता है हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को करवा चौथ व्रत रखा जाता है। इस दिन सुहागिन महिलाएं अखंड सौभाग्यवती और खुशहाल दांपत्य जीवन और पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं। इस दिन सुहागिनें निर्जला व्रत रखती रखती हैं रात में चांद के दीदार के बाद का अपना व्रत खोलती हैं पति की लंबी आयु और अच्छे स्वास्थ के लिए विवाहित महिलाए ये व्रत पूरे विधि विधान के साथ रखती हैं  लेकिन इस व्रत के नियमों को लेकर यह व्रत काफी कठिन माना जाता है ऐसे में इस व्रत में कई सावधानियां बरतनी होती है वरना व्रत का फल नहीं मिलेगा कई बार आपकी नियमपूर्वक व्रत ना करने से आपको बुरे परिणाम भी देखने को मिल सकते हैं पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि ऐसे कौन से काम हैं, जो करवाचौथ में भूलकर भी नहीं करना चाहिए इस लेख के बारे में विस्तार से जानने के लिए इसे अंत तक पढ़े.

करवा चौथ पर सुहागिनें गलती से भी न करें 5 काम, व्रत के फल से रह जाएंगी वंचित

दरअसल करवा चौथ 13 अक्टूबर 2022 को व्रत रखा जाएगा इस साल करवा चौथ की पूजा का समय शाम 06 बजकर 01 मिनट से रात 07 बजकर 15 मिटन तक है वहीं चांद समय रात 08 बजकर 19 मिनट पर निकलेगा तो चलिए जानते है क्या न करे करवा चौथ व्रत के दिन सूर्योदय से पूर्व उठकर सरगी खाना चाहिए. व्रती करवा चौथ में देर तक न सोएं साथ ही दिन के समय भी सोना नहीं चाहिए. व्रत का दिन भजन कीर्तन करने और शंकर-पार्वती के स्मरण में व्यतीत करें. इस व्रत में सरगी का विशेष महत्व है. देर तक सोने से सरगी खाने का समय निकल सकता है. करवा चौथ में सुहागिन महिलाएं 16 श्रृंगार करती है.

आपको बता दे कि ध्यान  रहे कि इस दिन सुहाग की कोई वस्तु पहनते समय टूट जाए तो उसे कूड़दान में न फेंके इन्हें बहते जल में प्रवाहित कर देना चाहिए. साथ ही इस दिन किसी से उधार लेकर मांग में सिंदूर न लगाएं न ही अपना सिंदूर और श्रृंगार का सामान किसी दूसरी महिला को दें. करवा चौथ सुहाग का पर्व है. इस व्रत में सुहाग से जुड़ी वस्तुओं का दान करना शुभ माना जाता है. ऐसे में इस दिन सफेद रंग की चीजों दूध, दही, चावल, सफेद मिठाई, वस्त्र का दान करने की भूल न करें धार्मिक मान्यताओं के अनुसार व्रती को इस दिन किभी भी धारदार चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए इस दिन सिलाई-कढ़ाई जिसमें कैंची का उपयोग होता है वह गलती से भी न करें ऐसा करना अपशगुन माना जाता है. करवा चौथ व्रत का फल तभी मिलता है जब व्रती का पूरा ध्यान ईश्वर की भक्ति में हो इस दिन किसी को अपशब्द न कहें, विवाद से दूरी बनाएं खासकर पति से वाद-विवाद न करें ये बात पति पर भी लागू होती है.

 

About Lakshmi