free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / वोट नही देने वाले के खाते से कट जायेगे पैसे,जाने क्या है सच

वोट नही देने वाले के खाते से कट जायेगे पैसे,जाने क्या है सच

मित्रों इस इंटरनेट की दुनिया में आये दिन सोशल मिडिया पर कई प्रकार की खबरे सामने आती रहती है सोशल मीडिया के दौर में जहां हम सूचनओं से जागरूक होते हैं तो वहीं एक तरफ हम इसके ऐसी सूचनाओं के जाल में फस जाते हैं जिनकी कोई सत्यता या प्रमाणिकता नहीं होती आज के दौर में लाइक्स के लिए लोग कोई भी अफवाह बिना कुछ सोचे-समझे शेयर कर देते हैं जिसे लोग सच भी मानने लगते हैं ऐसी वायरल खबरों का लोग आये दिन शिकार हो रहें एक ओर जहां हर व्यक्ति को अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए चुनाव आयोग, केंद्र सरकार और राज्य सरकार समेत सभी राजनीतिक पार्टियां प्रेरित करती हैं .ऐसे में मतदान को लेकर इन दिनों एक खबर काफी सुर्खियों में है .खबर के मुताबिक यदि कोई  मतदान नहीं करते हो तो आपको इसका हर्जाना भरना पड़ेगा  आपके अकाउंट से कटेंगे पैसे जानिए क्या है सच्चाई इस खबर के बारे में विस्तार से जानने के लिए पोस्ट के अंत तक बने रहिये.

दरअसल आजकल सोशल मीडिया पर एक खबर तेजी से वायरल हो रही है जिसमें कहा जा रहा है कि अगर लोकसभा चुनाव में कोई मतदाता वोट नहीं डालता है तो चुनाव आयोग उसके बैंक अकाउंट से पैसे काट लेगा इस खबर के फैलने के बाद इस दावे की पड़ताल की गई है सोशल मीडिया पर अखबार की एक कटिंग वायरल हो रही है जिसमें लिखा है कि ‘नहीं दिया वोट, तो बैंक अकाउंट से कटेंगे 350 रुपये: आयोग’ इसके बाद यह भी लिखा है कि चुनाव आयोग ने कोर्ट से पहले ही ले ली है मंजूरी. वायरल हो रही अखबार की कटिंग में लिखा गया है- ‘इस बार लोकसभा चुनाव में वोट नहीं डालना महंगा पड़ जाएगा. चुनाव आयोग ने मतदान से बचने वालों पर शिकंजा कसने के लिए नया आदेश जारी किया है’.

मिली जानकारी के मुताबिक वायरल हो रहे दावे की पड़ताल करके पीआईबी फैक्ट चेक ने इसकी सच्चाई बताई है पीआईबी ने इस दावे को पूरी तरह से फर्जी बताया है. भारतीय चुनाव आयोग द्वारा ऐसा कोई भी पैसला नहीं लिया गया है पीआईबी ने लोगों से कहा है कि ऐसी भ्रामक खबरों को शेयर न करें चुनाव आयोग ने भी ट्वीट कर इसे फर्जी बताया है चुनाव आयोग के स्पोकपर्सन के ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा गया- ‘हमारे संज्ञान में आया है कि निम्नलिखित फर्जी खबरें कुछ व्हाट्स एप ग्रुप और सोशल मीडिया पर फिर से शेयर की जा रही हैं’ इस तरह की फर्जी खबरें साल 2019 में भी शेयर की गई थीं.

About Lakshmi