free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / माही के संन्यास लेने पर उदास हो गए माही के फैन्स

माही के संन्यास लेने पर उदास हो गए माही के फैन्स

भारतीय टीम के पूर्व कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी(Mahendra Singh Dhoni) के अचानक इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा(retirement from international cricket) के बाद झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन उनके लिए खास फेयरवेल चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने बीसीसीआई(BCCI) से एक अपील भी की है।

दरअसल मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘देश और झारखंड को गर्व और उत्साह के अनेक क्षण देने वाले माही ने आज अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया है। हम सबके चहेते झारखंड के लाल माही को नीली जर्सी पहने नहीं देख पायेंगे। पर देशवासियों का दिल अभी भरा नहीं। मैं मानता हूं हमारे माही का एक फ़ेयरवेल मैच रांची में हो जिसका गवाह पूरा विश्व बनेगा। मैं BCCI से अपील करना चाहूंगा कि माही का एक फेयरवेल मैच कराया जाए जिसकी मेजबानी पूरा झारखंड करेगा।’

उल्लेखनीय है कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से सभी को चौंकाते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। मतलब यह है कि अब एमएस धोनी न वनडे की टीम इंडिया की जर्सी में नजर आएंगे और न ही टी-20 खेलते दिखाई देंगे। आपको बता दें धोनी आईपीएल में खेलना जारी रखेंगे। धोनी के इस फैसले से उनके करोड़ों फैन्स को झटका लगा है जो यह उम्मीद कर रहे थे कि वो जल्द ही भारतीय टीम की जर्सी में दिखाई देंगे। धोनी ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा कि अब तक आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद। शाम सात बजकर 29 मिनट से मुझे रिटायर्ड समझिए।

अपनी लाजवाब कप्तानी और फिनिशिंग के हुनर से महानतम क्रिकेटरों में शुमार दो बार के विश्व कप विजेता भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने शनिवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहकर पिछले एक साल से उनके भविष्य को लेकर लग रही अटकलों पर विराम लगा दिया। वह हालांकि इंडियन प्रीमियर लीग में खेलेंगे जो 19 सितंबर से यूएई में आयोजित की जा रही है। बीसीसीआई ने एक बयान में उनके कैरियर की ऐतिहासिक उपलब्धियों का ब्यौरा देते हुए कहा कि इस शानदार विरासत को दोहरा पाना मुश्किल होगा।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा कि यह एक युग का अंत है। क्या शानदार क्रिकेटर रहा है देश के लिए और दुनिया के लिए। मैदान पर बिना किसी मलाल के उसने अलविदा कहा। बोर्ड सचिव जय शाह ने कहा कि जब उन्होंने खेलना शुरू किया था, तब से वह आज तक खेल को बहुत कुछ देकर जा रहे हैं। वे इस युग के महान खिलाड़ियों में से एक हैं। मैं समझता हूं कि यह उनका व्यक्तिगत फैसला है और हमें इसकी इज्जत करनी चाहिए। मैं उनको आईपीएल और आगे के भविष्य के लिए शुभकामनाएं दे हूं।

धोनी के करियर की बात करें तो उन्होंने वनडे क्रिकेट में पांचवें से सातवें नंबर के बीच में बल्लेबाजी के बावजूद 50 से अधिक की औसत से 10773 रन बनाए। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 38.09 की औसत से 4876 रन बनाए और भारत को 27 से ज्यादा जीत दिलाई। आंकड़ों से हालांकि धोनी के कैरियर ग्राफ को नहीं आंका जा सकता। धोनी की कप्तानी, मैच के हालात को भांपने की क्षमता और विकेट के पीछे जबर्दस्त चुस्ती ने पूरी दुनिया के क्रिकेटप्रेमियों को दीवाना बना दिया था। वह कभी जोखिम लेने से पीछे नहीं हटे।

आईपीएल में तीन बार चेन्नई को जिताकर वह ‘थाला’ कहलाए। चेन्नई टीम के सीईओ काशी विश्वनाथ ने हाल ही में कहा था कि वह कम से कम 2022 तक टीम के लिए खेलते रहेंगे। पिछले साल धोनी ने प्रादेशिक सेना में अपनी यूनिट को सेवाएं दी जिसमें वह मानद लेफ्टिनेंट कर्नल है। इसके साथ ही रांची में जैविक खेती भी की और कुछ मौकों पर नेट पर अभ्यास करते भी नजर आए।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.