free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / जेएनयू में पीएचडी का छात्र गि’रफ्तार

जेएनयू में पीएचडी का छात्र गि’रफ्तार

दिल्ली में हुए हिं’स”क झ”ड़’प के आ”रो’पी और जेएनयू में पीएचडी का छात्र शरजील इमाम को दिल्ली पु-लि’स ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। दि’ल्ली पु”लि’स की स्पेशल सेल ने यह कार्रवाई गै-रकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) के तहत की है। श’रजील इमाम को रविवार के दिन ही प्रोडक्शन वॉरंट पर असम से दि’ल्ली लाया गया था। बता दें कि दिल्ली पु’लिस द्वारा अप्रैल में दाखिल की गई चार्जशीट में इमाम पर राजद्रो’ह का मुकदमा था।

गौरतलब है कि शरजील इमाम पर आरोप है कि उसने दिल्ली हिंसा के दौरान देश की अखंडता और संप्रभुता को नुकसान पहुंचाने वाली गतिविधियों में लोगों को शामिल होने के लिए उकसाया था। उस पर आरोप है कि उसने खुलेआम देश के संविधान का अपमान किया और उसे फासीवादी दस्तावेज करार दिया था। दिल्ली लाए जाने से पहले गुवाहाटी की जेल में भड़काऊ भाषण देने के मामले में बंद था। दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल की एक टीम जुलाई में गुवाहाटी पहुंची थी। दिल्ली लाने से पहले उसका कोरोना टेस्ट करवाया गया, जो पॉजिटिव निकला था। हालांकि, शरजील के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद स्पेशल सेल की टीम वापस दिल्ली लौट आई थी।

बता दें कि कोरोना संक्रमण से मुक्त होने के बाद दिल्ली पुलिस से उसे अब असम से दिल्ली लेकर आई। दिल्ली पुलिस उससे दिल्ली हिंसा मामले में साजिश के आरोप और फंडिंग को लेकर पूछताछ करने के लिए रिमांड पर लेना चाहती थी। उस पर आरोप है कि उसने अपने भाषण में असम को देश के बाकी हिस्सों से काटने की बात कही थी। जिसके बाद उसपर आपराधिक साजिश, राष्ट्रद्रोह और धर्म के आधार पर लोगों में मतभेद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। दिल्ली पुलिस ने उसपर 124 ए, 153 ए और 505 के तहत मामला दर्ज किया गया।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.