free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / क्या आपके पास भी है एक से ज्यादा बैंक अकाउंट

क्या आपके पास भी है एक से ज्यादा बैंक अकाउंट

नौकरी-पेशा करने वाले ज्यादातर लोगों के पास एक से ज्यादा बैंक खाते होते हैं। कई दफा कंपनी बदलने पर नया बैंक खाता खुलवाना पड़ता है। कुछ बैंक ग्राहकों के जीरो बैलेंस सैलरी अकाउंट में कुछ महीनों तक सैलरी क्रेडिट नहीं होने पर उसे बचत खाते में बदल देते हैं। नॉन-सैलरी बचत खाते में न्यूनतम बैंलेंस रखना होता है, जिसे कई बार पूरा नहीं किया जा सकता। अगर खाते में न्यूनतम बैलेंस नहीं है तो अकाउंट को बंद करा देना चाहिए। लेकिन, आपको अपना अकाउंट बंद कराने जाने पर कुछ जरूरी बातों का ख्याल रखना चाहिए।

ऑटोमेटिक डेबिट्स बंद कर दें: अपना खाता बंद करवाते समय अपने अकाउंट से लिंक सभी डेबिट्स को डीलिंक करवा लें। अगर आपका यह बैंक खाता महीने के लोन इएमआई के लिए लिंक है, तो आपको अपने कर्जदाता को नया वैकल्पिक बैंक अकाउंट नंबर देना चाहिए।

ब्रांच विजिट: बैंक अकाउंट को स्थाई रूप से बंद कराने के लिए खाताधारक को बैंक के ब्रांच जाना होगा। ब्रांच में जाकर आपको अकाउंट क्लोजर फॉर्म भरना होगा। इस फॉर्म के साथ ही आपको डी-लिंकिंग फॉर्म भी सबमिट करना होता है। साथ में उपयोग में नहीं आई चेक बुक, क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड भी बैंक में जमा कराना होती है।

नए खाता डिटेल्स अपडेट करें: पुराना सैलरी अकाउंट बंद कराने पर एंप्लॉयर को नए अकाउंट डिटेल्स दे दें, ताकि आपकी सैलरी या पेंशन नए में आती रहे।

खाता बंद कराने का शुल्क: सेविंग अकाउंट खुलवाने के 14 दिन के अंदर ही उसे बंद कराने पर कोई भी शुल्क नहीं लगता है। खाता खुलने से 14 दिनों से लेकर एक साल के बीच में अकाउंट बंद करवाने पर इसके लिए बैंक कुछ शुल्क लेते हैं। इसके लिए अलग-अलग बैंकों का शुल्क अलग-अलग हो सकता है। वहीं खाता खुलने के एक साल बाद बंद करवाने पर कोई शुल्क लागू नहीं होता है।

अगर आपने एक से ज्यादा बैंक खाता खुलवा लिया है और आपके पास उनका कोई काम नहीं है तो आप उन्हें बंद करा सकते हैं। क्योंकि, जब खातों का इस्तेमाल नहीं है फिर भी उनमें अलग से तिमाही न्यूतम राशि बरकरार रखना होता है। इसलिए आपको ये खाते बंद करा देना ही सही रहेगा।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.