free tracking
Breaking News
Home / धार्मिक / पुराणों में बताई गयी है बेडरूम से जुडी जरूरी बाते

पुराणों में बताई गयी है बेडरूम से जुडी जरूरी बाते

शाश्त्रो  में बताया हमारे जीवन में पलंग का विशेष महत्त्व, इस लकड़ी से बने हुए पलंग को कभी न करे इस्तेमाल, नहीं तो जीवन भर भुगतनी पड़ सकती है परेशानी ! पूरी जानकारी के लिए जरुर पढ़े ये खबर !

किसी भी इन्सान का जब भी सोने का मन हो या उसे थकावट हो  तो सबसे पहले वो सोने के लिए पलंग ढूँढता  है !  अपने कमरे के लिए आप अपनी पसंद का अच्छे डिजाईन का पलंग पसंद करते है ! हमारे जीवन में पलंग का बहुत महत्व है लेकिन हमको इस बात की बिलकुल भी जानकारी नही होती !  हमारा पलंग किस चीज़ से बना हो ये बात भी बहुत मायने रखती है ! और किस दिशा में है इस बात का भी बहुत फर्क पड़ता है !

चरक संहिता और कूर्म पुराण में इसका स्पष्ट रूप से उल्लेख किया गया है ! पलंग बनाने  में किस लकड़ी का इस्तेमाल किया जाना चाहिए !और पलंग लोहे या किसी भी प्रकार की अशुद्द धातु से बना नही होना चाहिए ! और बहुत से हिन्दू पुराण  वामन ,विष्णु , ब्रह्म और स्कंद पुराण में सोने के लिए सही दिशा के बारे में भी बताया गया है ! वास्तु विशेषज्ञय और ज्योतिष चार्य  भी मानते है कि पुराणों में बताई गयी बाते कई प्रकार की समस्याओ से बचाती है ! इन पुराणों में बताई गयी  बातो के अनुसार यदि आप अपनी आयु लम्बी करना चाहते हो और अपने जीवन में सकारात्मक ऊर्जा लाना चाहते हो तो आपको अपने बेडरूम में बदलाव लाना आवश्यक है !

1. लघुव्यास संहिता में बताया गया है की पलंग के सामने शीशा नही होना चाहिये ! यदि ऐसा हो तो इसका सीधा असर सोने वाले के स्वास्थ्य और जीवन पर पड़ता है ! और इस पुराण में शैय्या और शीशे की इस स्तिथि को अशुभ बताया गया है !

2. चरक संहिता में बताया गया  है कि  बेड  कंही से टुटा हुआ नही होना चाहिए ! और न ही आवाज़ करता हो ! ऐसे  पलंग को भी अशुभ मन गया है ! पलंग समतल जगह पर होना चाहिए !

3. पुराणों में बताया गया है कि बथरूम और बेडरूम को जोड़ने वाली दीवार से पलंग दूर लगाना चाहिए ! बेड और उस दीवार के बीच लकड़ी का तख्ता आदि लगा दे ! यदि ऐसा नही करते है तो डर और मानसिक तनाव हमेशा रहता है !

4. कभी भी पलंग दो दरवाजो  के बीच नही होना चाहिए ! यदि ऐसा हो तो मानसिक अशांति बनी रहती है ! स्वास्थ्य बार -बार खराब होता रहता है !

5. स्कंद और ब्रह्मपुराण में किस जगह नही सोना चाहिए बातो का उल्लेख लिया गया है ! यदि पलंग के साथ खिड़की हो तो बहुत ही शुभ माना जाता है ! सुबह उठते ही खिड़की खोलनी चाहिए और आकाश के दर्शन करने चाहिए ! इस से साँस सम्बन्धी बीमारिया नही होती और आलस्य ओए थकन भी हमेशा के लिए खत्म हो जाता है !

6. बांस और पलाश की लकड़ी के पलंग नही होने चाहिए ! सागौन के पलंग को शुभ माना गया है !

7. वामन और विष्णु पुराण में बताया गया है कि पूर्व या दक्षिण दिशा की तरफ पलंग का हेडर होना चाहिए ! यदि इन दिशाओ में सिर रख कर सोया जाये तो पैसा और आयु में बढ़ोतरी होती है !

यदि आपको ये जानकारी पसंद आई हो तो लाइक, शेयर व् कमेन्ट जरुर करें !

About Lakshmi

Leave a Reply

Your email address will not be published.