free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / पूजा के तुरंत बाद ही दुल्हन को आया गुस्सा

पूजा के तुरंत बाद ही दुल्हन को आया गुस्सा

शादी करना लड़का और लड़की का एक सपना होता है, जैसे हो दोनों का रिश्ता होता है तो उसी पल से  दोनों अपने आने वाले खुशहाल जीवन की कल्पना  करने लगते है ! लेकिन क्या हो जब दुल्हन को लेने दुल्हा उसके घर धूम धाम से पहुंचे और दुल्हन उसके साथ जाने के लिए इनकार कर दें ! ऐसा ही एक मामला हमारे सामने आया है जहाँ दुल्हन ने शादी से साफ़ मना कर दिया वजह दुल्हे की बे’हूदी ह”रकत थी !

उत्‍तर प्रदेश के बाराबंकी में बैंडबाजे के साथ बरात लेकर पहुंचे दूल्हे को बिना दुल्हन लौटना पड़ा। दुल्‍हन पक्ष ने दूल्हे पर श’राब पीकर हं’गामा और द्वार पूजा के बाद अचानक दहेज की मांग का आ-रो’प लगाया है। वहीं, दुल्‍हन के शादी से इन्‍कार करने पर दूल्‍हा थाने जा पहुंचा। दूल्‍हे ने थाने में दी तहरीर…भूल गया मंगलसूत्र ‘तो दुल्‍हन ने किया शादी से इन्‍कार। घंटों चले वि’वाद के बाद दोनों पक्ष अपना-अपना सामान वापस लेने में सहमत हुए और शादी टूट गई।

द्वार पूजा के बाद दूल्‍हा गायब, फोन कर दुल्‍हन से बोला…

मामला टिकैतनगर थानाक्षेत्र का है। यहां की निवासी युवती के साथ शादी करने बदोसराय से युवक बरात लेकर मंगलवार देर रात पहुंचा। द्वारपूजा की रस्म के बाद वधू पक्ष ने तिलक चढ़ाने की रस्म पूरी की। दुल्हन के चाचा का आरोप है कि द्वारपूजा के समय दूल्हा शराब के नशे में धुत था। इसके बाद वह कार से गांव के बाहर चला गया। यहां से दुल्हन के मोबाइल पर फोन करके धमकी दिया कि तिलक पर तुम्हारे पिता ने डेढ़ लाख रुपये का दहेज नहीं दिया है। शादी के बाद सबक सिखाएंगे। दुल्हन ने यह बात परिवारजन को बताई। इसपर दुल्‍हन पक्ष ने दूल्हे के पिता से शिकायत का प्रयास किया। इस दौरान वह भी नशे में धुत मिले। उधर, दुल्हन ने शादी करने से इन्कार कर दिया। काफी देर तक मनाने के बाद भी दुल्‍हन पक्ष के लोग नहीं माने तो दूल्हा थाने पर पहुंच गया। दूल्हे ने थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया कि मंगलसूत्र न लाने के कारण दुल्‍हन ने शादी से मना कर दिया है।

घंटों चला विवाद, अपना-अपना सामान लेने में बनी सहमति

शिकायत पर एसआइ जवाहर पाल ने मामले की जांच की। दुल्‍हन पक्ष के बयान लिए गए। दूल्‍हे व दुल्हन पक्ष के लोग थाने में एकत्रित हुए। यहां दोनों पक्षों में समझौता कराया गया और दोनों पक्ष अपने घर को चले गए। कोतवाल नारद मुनि सिंह का कहना है कि आपसी विवाद के चलते शादी नहीं हो सकी, दोनों पक्षों ने अपना-अपना सामान वापस लेकर सुलह कर लिया है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.