free tracking
Breaking News
Home / देश दुनिया / बेडरूम में लगे कैमरे में जो आया उसे देख कर …

बेडरूम में लगे कैमरे में जो आया उसे देख कर …

अक्सर  माँ बाप अपने बच्चो को को पाने साथ ही सुलाते है लेकिन बदलते जमाने के अनुसार अब माँ बाप अपने बच्चो के लिए अलग कमरा बनाते है और उन्हें उनके मुताबिक़ सजाते है लेकिन बच्चो के कमरे में कैमरा कोई नहीं लगाता ! लेकिन आज हमारे सामने एक अजीव सी घटना सामने आई है जिसे सुन कर आज हैरान रह जायेंगे ! जब चार बच्चों की माँ एश्ले लिमेय ने कैमरा इसलिए खरीदा, क्योंकि उसे अपने बच्चों पर नज़र रखना जरूरी था। उसने कैमरे में जो कुछ देखा उससे उसकी रूह कांप गई .

एश्ले अमेरिका  के मिसिसिपी राज्य के एक छोटे से शहर में अपने पति और चार बच्चों के साथ रहती है। उसके बच्चे कभी शांत नहीं बैठते, दिन भर ऊधम करते थे, कभी लुका-छिपी खेलते  थे,कभी खिलौने खेलने लगते  और कभी मेक-अप करने लगते थे। कई बार तो बच्चे दिन में दस मिनट भी आराम नहीं करते थे और पूरे घर में दौड़ लगाते थे। लेकिन एश्ले की सबसे बड़ी परेशानी बच्चों का ऊधम और शरारत नहीं थी…

उसकी सिर्फ चार साल की बेटी को एक बीमारी है जिसमें उसे समय-समय पर मिर्गी जैसे चक्कर आते हैं। यह स्थिति जानलेवा नहीं होती  लेकिन इस पर बारीकी से नज़र रखना जरूरी होता है। यही वजह है कि एश्ले कुछ न कुछ ढूंढती रहती थी जिससे उसका काम आसान हो जाए …

एश्ले एक अस्पताल में शाम की शिफ्ट में रिसर्चर का काम करती है और इसलिए हर  समय खुद अपनी बेटी पर नजर नहीं रख सकती। उसके पति भी ये कर सकते थे लेकिन उसे लगता था कि इतना काफ़ी नहीं होगा। यही कारण है कि उसने कुछ ऐसा किया कि पूरी निश्चिंत हो सके …

ब्लैक फ्राइडे की सेल आ गई थी और एश्ले ने देखा कि “रिंग सिक्योरिटी सिस्टम” के कैमरों पर अच्छा डिस्काउंट चल रहा है। एश्ले तुरंत यह सोचकर एक कैमरा खरीद लाई कि इससे उसकी दिक्कत खत्म हो जाएगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं …

कैमरा लगाने के कुछ दिनों बाद कुछ ऐसा हुआ जो बड़ा अजीब था। वह 4 दिसंबर का दिन था जब 8 साल की एलिसा को अपनी बहन के बेडरूम से कुछ अजीब आवाज़ें  सुनाई दीं।एलिसा जिज्ञासावश बेडरूम के अंदर आ गई। बेडरूम में आते ही उसने कुछ ऐसा सुना जिससे वह बहुत डर गई …

तभी एक अनजान आवाज़ ने उससे बात करना शुरू कर दिया। “हैलो,” किसी आदमी की आवाज़ आई। एलिसा पूरी हैरान हो गई थी। उसने पहले कभी ऐसी आवाज़ नहीं सुनी थी और यह भी समझ नहीं आ रहा था कि आवाज़ आ कहाँ से रही है? उसने पूरे कमरे में घूम कर खिलौने वगैरह उठा कर देखे कि आखिर आवाज़ आ कहाँ से रही है। लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ जिसने उसे बुरी तरह डरा दिया …

अचानक वह अनजान आवाज़ चिल्लाने लगी और अनाप-शनाप बातें करने लगी। जब एलिसा से सहन नहीं हुआ तो वह भी चिल्ला कर बोली, “क्या बोल रहे हो? मुझे ठीक से  सुनाई नहीं दे रहा!” बच्ची बहुत घबरा गई थी और उसे समझ नहीं आ रहा था कि क्या करे। लेकिन अगर आपको लगता है कि यह भूतिया अनुभव यहीं खत्म हो गया था तो ऐसा नहीं था, आगे जो हुआ उसकी तो कल्पना भी नहीं की जा सकती …

फिर अचानक कैमरे से किसी डरावनी फिल्म के गाने की धुन बजने लगी। इसे सुनने के बाद तो एलिसा संभल नहीं पाई और बहुत डर गई। इसके बाद जो हुआ वह बहुत ही हैरान कर देने वाला था …हैकर ने एलिसा से कहा कि वो अपनी मम्मी का मज़ाक उड़ाए, उसे गाली दे। एलिसा इसे बर्दाश्त नहीं कर सकी और रोने लगी। फिर कैमरे से आवाज आई: “अरे, बेटी, मुझसे बात करो!” जवाब में एलिसा रोते हुए बोली: “मम्मी ये आप हो क्या?” हैकर ने जो जबाब  दिया वह थोड़ा अजीब था …

हैकर खौफ़नाक आवाज़ में बोला, “मैं तुम्हारा बेस्ट फ्रेंड हूँ। तुम जो मर्जी कर सकती हो। चाहो तो इस कमरे को पूरा पलटा दो; टीवी फोड़ दो, जो मन में आए करो !” “कौन हो तुम?” एलिसा डरकर फिर से बोली। बड़ी जल्दी ही उसे कुछ पता चला, जरा रुकिए, आपको पता चल जाएगा कौन था वह …

आखिर में जब कैमरा बोला कि “मैं तेरा काल हूँ,” तो एलिसा खुद को रोक नहीं सकी और ज़ोर से चिल्लाई, “मुझे नहीं पता तुम कौन हो ?” और दौड़ कर कमरे से बाहर भाग गई। एलिसा के मम्मी-पापा को पहले तो समझ ही नहीं आया कि क्या हुआ है। एश्ले को अपने पति का फोन आया जिसमें वह परेशान लग रहा था …

उसके पति ने पूछा कि क्या वह बच्चों के साथ मजाक तो नहीं कर रही है। एश्ले ने बताया कि ऐसा कुछ नहीं था। फिर एश्ले ने रिंग एप में देखा और समझ गई कि बेडरूम की आवाज़ उसके पति की नहीं थी। वह काम छोड़कर तुरंत घर जाने के लिए भागी। घर पहुँचकर उसने रिंग कंपनी को फोन किया कि शायद ये लोग कुछ बता सकें …

एश्ले ने सोचने की कोशिश की कि आखिर हैकर क्या चाहता था: “मुझे नहीं लगता कि यह केवल एक संयोग है कि मेरी चार बेटियाँ हैं और हैकर उनका विश्वास हासिल करने की कोशिश कर रहा है।” उन्होंने आखिर बेडरूम से कैमरा हटा दिया लेकिन वे नहीं जानते थे कि हैकर के पास कितनी तरह की चीजें हैं। थोड़े समय बाद ही उन्हें कुछ ऐसा पता चला जो बड़ा चौंका देने वाला था …

रिंग कंपनी ने आखिर ईमेल के जवाब में स्वीकार किया कि “अलग-अलग” तरह की गतिविधियाँ देखी गई हैं। लमे परिवार को इतने जबाब से संतुष्टि नहीं हुई और वे लगातार कंपनी से संपर्क करने की कोशिश करते रहे। हर बार उन्हें बस रिकॉर्ड किया गया मैसेज सुनने मिलता था। तीन दिन बाद आखिर वे कंपनी वाले से बात कर पाए और उसने भी ठीक से जबाब नहीं दिया …

माफ़ी मांगने की जगह कंपनी का आदमी बोला कि उन्होंने अपने कैमरे में एक मजबूत पासवर्ड क्यों नहीं लगाया था। एश्ले को बहुत गुस्सा आ रहा था और उसे लग रहा था कि कंपनी उसे बेवकूफ़ समझती है। उसने फोन पर चिल्ला कर बोल दिया कि रिंग कंपनी का जबाब बिल्कुल नॉनसेंस है और कंपनी को शर्म आनी चाहिए। अंत में, रिंग कंपनी ने लिखित में जबाब दिया …

रिंग कंपनी ने कहा कि वे मामले को बहुत गंभीरता लेंगे और समस्या का समाधान निकालेंगे। लेकिन बस इतना ऐलमे परिवार के लिए काफी नहीं था। उनकी चारों बेटियों को उस रात के बुरे सपने आते हैं और एलिसा की तो स्थिति बहुत खराब हो गई है। इस घटना के बाद कम से कम रिंग कंपनी को अपने प्रोडक्ट  की कुछ खामियों पर सोचने के लिए मजबूर होना पड़ा। कम से कम कंपनी ने तो ऐसा ही बताया … लेकिन क्या यह सच है?

उस दिन जो हुआ उसे भूलना इस परिवार के लिए सरल नहीं है, खासकर बच्चे तो कभी नहीं भूलेंगे। यह एक जीवंत उदाहरण है कि यह जरूरी नहीं है कि मॉडर्न टेक्नालजी हमेशा सही सिक्योरिटी दे। इसलिए  हमेशा ध्यान रखें कि आप नई टेक्नालजी के खतरों की जानकारी रखें।

About payal

Leave a Reply

Your email address will not be published.