free tracking
Breaking News
Home / जरा हटके / बिहार के लड़के को दिल दे बैठी आस्ट्रेलिया की विक्टोरिया,गांव आकर हिंदू रीति रिवाज से रचाई शादी

बिहार के लड़के को दिल दे बैठी आस्ट्रेलिया की विक्टोरिया,गांव आकर हिंदू रीति रिवाज से रचाई शादी

दोस्तों आज के समय में प्यार के बारे में जानकारी देना बेबकूफी है क्योकि प्यार क्या होता है कब हो जाता है और प्यार में प्रेमी किस  हद तक जा सकते है सभी जानते  है .ये तो सभी  को मालूम है जब दो प्यार करने वाले जीवन भर साथ रहने की ठान लेते है तो उन्हें दुनिया की कोई ताकत नही रोक सकती अपने प्यार को पाने के लिए प्रेमी  सात समन्दर भी पार कर लेते है .आज हम आपको एक ऐसी ही प्रेम खानी के बारे में बताने वाले है जिसमे देसी छोरे के प्यार में पड़ी गौरी मेम ऑस्ट्रेलिया से भारत तक पहुँच गयी और रचाया धूमधाम से ब्याह क्या है पूरा मामला जानने के लिए लेख को अंत तक जरुर पढ़े .

प्यार की खातिर सात समन्दर पार भारत पहुंची गोरी मेम 

सात समुंदर पार मैं तेरे पीछे-पीछे आ गई। ये गाना ऑस्ट्रेलिया की रहने वाली विक्टोरिया पर बिल्कुल फिट बैठता है। प्यार कब कैसे और कहां हो जाए इसका अंदाजा कोई नहीं लगा सकता है। तभी तो सात समुंदर दूर बैठी विक्टोरिया को बिहार के जयप्रकाश से प्यार हो गया, और वो अपने प्यार को पाने के लिए बिहार के गांव तक आ गई।कहते हैं प्यार अगर सच्चा हो और प्यार में समर्पण हो तो आपको कोई अलग नहीं कर सकता है। बिहार के बक्सर के रहने वाले जयप्रकाश ऑस्ट्रेलिया पढ़ाई करने गई थे। वहां उनकी मुलाकात मेलबर्न की रहने वाली विक्टोरिया से हुई। दोनों के बीच पहले दोस्ती हुई। ये दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में बदल गई। इसी दौरान जयप्रकाश को एक कंपनी में एमएस सिविल इंजीनियर के पद पर नौकरी भी मिल गई।

दोनों के बीच प्यार इतना गहरा हुआ कि दोनों ने एक साथ जिंदगी भर रहने की ठान ली। कपल ने शादी का फैसला लिया। दोनों ने अपने परिवार में शादी के लिए बात की और देखिए सच्चे प्यार को कोई रोक नहीं पाया। परिवार वाले दोनों की शादी के लिए राजी भी हो गए।हालांकि, जयप्रकाश के पिता की शर्त थी कि शादी बिहार में हो, इसलिए विक्टोरिया अपने परिवार के साथ सात समुंदर पार शादी के लिए बिहार पहुंच गई। विक्टोरिया के साथ उनके पिता स्टीवन टॉकेट और मां अमेंडा टॉकेट भी थी। 20 अप्रैल की रात विक्टोरिया और जयप्रकाश शादी के बंधन में बंध गए।

विक्टोरिया के पिता स्टीवन को बिहारी संस्कृति खूब पसंद आई। उन्होंने कहा कि इन रस्मों को देखकर काफी खुशी हो रही है। जहां शादी करके विक्टोरिया और जयप्रकाश खुश हैं वहीं, आस पास के लोग भी विदेशी बहू पाकर फूले नहीं समा रहे हैं। कुल मिलाकर कहें तो ये शादी अब चर्चा का विषय बन गया है।

About Lakshmi

Leave a Reply

Your email address will not be published.