free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / 7 सितम्बर से दौडेगी बंद पड़ी मेट्रो

7 सितम्बर से दौडेगी बंद पड़ी मेट्रो

अनलॉक 4 को लेकर केंद्र सरकार द्वारा गाइड लाइन जरी कर दी गयी है ! जारी की गयी  गाइड लाइन के अनुसार गृह मंत्रालय की और से देशभर में सभी बंद पड़ी मेट्रो को 7 सितम्बर तक शुरू कर दिया जायेगा ! कुछ शर्तो के साथ इन  मेट्रो को शुरू किया जायेगा ! स्कूल और कॉलेज को अभी खोला जा नही जायेगा !

ओपन एयर  थियटर खुलने के आदेश 21 सितम्बर तक जारी किये गये है  !  7 सितम्बर से चरणबद्द  तरीके से मेट्रो को शुरू करने की अनुमति दी गयी है ! 30 सितम्बर तक  स्कूल ,कॉलेज व्  अन्य शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे ! राज्यों,  केंद्र शासित प्रदेशो में 50% तक शिक्षण और अन्य स्टाफ को टेली काउंसलिंग ,ऑनलाइन शिक्षण कार्य करने के लिए बुलाया जायेगा !

अभिभवको  की लिखित सहमति से क्लोज्ड एरिया के बाहर  के स्कुलो में 9वी कक्षा से लेकर 12 वी कक्षा तक के छात्रों  को जाने की अनुमति दी जा सकती है ! ज्यादा से ज्यादा 100 व्यक्तियों को  21 सितम्बर से राजनितिक , धार्मिक और समाजिक कार्यक्रमों को एक साथ  करने को अनुमति दी जा सकती  है ! गृह मंत्रालय द्वारा मंजूर यात्रा को छोडकर अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्राये स्थगित  रहेगी ! ओपन एयर  थियटर को छोड़कर 30 सितम्बर तक  स्विमिंग पूल ,सिनेमा हॉल और थियेटर बंद रहेंगे ! क्लोज्ड एरिया के बाहर किसी भी स्थान पर राज्य सरकारे केंद्र  से बिना बातचीत  किये लॉकडाउन लागु नही करेगी !

जारी गाइड लाइन के अनुसार 21 सितम्बर से राजनितिक रेली शुरू की जा सकती है ! और धार्मिक कार्यक्रमों में 21 सितम्बर से 100 लोग शामिल हो पाएंगे ! गृह मंत्रालय ने 100 लोगो को ऐसे आयोजनों में शामिल होने की अनुमति दे दी है ! लेकिन इसमें सोशल डिस्टेंस का खास ध्यान रखना अनिवार्य होगा ! 9वी से  12 वी तक के छात्र यदि स्कूल आना चाहे तो उन्हें भी स्कूल आने की अनुमति दे दी गयी है !

लेकिन एक से दुसरे राज्य में जाने की अनुमति नही गयी है ! देश में 34 लाख तक कोरोना के केस होगये है और 26 लाख तक स्वस्थ होगये है ! सभी राज्यों को गृह मंत्रालय ने हिदायत दी है कि वे अपनी मर्जी से लॉकडाउन नही लगा सकते ! लॉक डाउन लगाने से पहले उन्हें गृह मंत्रालय से अनुमति लेनी होगी  ! कंटेनमेंट जोन में पहले की तरह ही सख्ताई रहेगी !

About Lakshmi

Leave a Reply

Your email address will not be published.