free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / एक दिन में 50 हजार से ज्यादा मरीज हुए ठीक

एक दिन में 50 हजार से ज्यादा मरीज हुए ठीक

देश भर में को’रो’ना के मरीजों की संख्या दी प्रति दिन बढती जा रही है ! इस की रोकथाम के लिए सरकार के द्वारा अनेक प्रयास किये जा रहे है ! लेकिन फिर भो रोजाना नए मामले बढ़ते जा रहे है ! दुनिया के तमाम देश इसकी वैक्सीन बनाने की रेस में लगे हुए है  ! कई दवाईयां तो जांच के अंतिम चरण तक पहुंचा गयी है और उम्मीद है कि  जल्दी ही दवा मिल जायेगी !जिसके पर्योग से जायदा से ज्यादा मरीजों को ठीक किया जा सकेगा ! ऐसे में देश से एक अची खबर सामने है !

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 51,000 से अधिक मरीज ठीक हुए हैं। 51,225 मरीजों के ठीक होने और उन्हें अस्पातल से छुट्टी मिलने के साथ ही कोविड-19 से ठीक होने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़कर 11,45,629 हो गई है। पिछले 24 घंटों में एक दिन के दौरान अब तक सबसे अधिक मरीजों के ठीक होने के साथ ही इस बीमारी से ठीक होने की दर अब तक की सबसे अधिक 65.44%हो गई है। इसका मतलब है कि अब कोविड-19 के अधिक से अधिक मरीज ठीक हो रहे हैं और उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दी जा रही है।

केंद्र और राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश सरकारों द्वारा कोविड-19प्रबंधन रणनीति के समन्वित कार्यान्वयन और मरीजों के उपचार में लगे सभी स्वास्थ्य और अन्य कर्मियों तथा सभी संबंधित क्षेत्रों के कोविड-19योद्धाओं के निस्वार्थ त्याग से इस बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

इस बीमारी से ठीक होने वाले लोगों की संख्या और इसके सक्रिय मामलों के बीच के अंतर में लगातार बढ़ोत्‍तरी देखी जा रही है। पहली बार 10 जून 2020 को इस बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या इसके सक्रिय मामलों की संख्या से 1,573 अधिक हुई थी जो आज की तारीख में बढ़कर 5,77,899 हो गई है। भारत में अभी सक्रिय मामलों का ही वास्तविक भार है और वर्तमान में सक्रिय मामले कुल मामलों (5,67,730)का 32.43% हिस्सा है। सभी सक्रिय मामले अस्पतालों में और घरेलू आइसोलेशन में चिकित्सकीय देखरेख में हैं।

प्रभावी नियंत्रण कार्यनीति, बड़े स्तर पर तेजी से परीक्षण और समग्र मानक देखभाल रूपरेखा के आधार पर मानकीकृत नैदानिक ​​प्रबंधन प्रोटोकॉल के सफल और समन्वित कार्यान्वयन के परिणामस्वरूप बीमारी से ठीक होने की रिकवरी दर में लगातार वृद्धि हुई है और मृत्यु दर (केस फेटलिटी रेट) को भी निरंतर कम किया जा रहा है। वैश्विक औसत की तुलना में भारत में मृत्यु दर (सीएफआर) सबसे कम 2.13% है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.