free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / 25 साल के MBBS स्टूडेंट ने की खुदखुशी, सुसाइड नोट में लिखा उसने मुझे छोड़ दिया, यही वो चाहती थी,

25 साल के MBBS स्टूडेंट ने की खुदखुशी, सुसाइड नोट में लिखा उसने मुझे छोड़ दिया, यही वो चाहती थी,

मित्रों जैसा की आप सभी अवगत ही होगें कि हमारा जीवन बहुमूल्य होता है इसका कारण यह है कि हमारा हजारों वर्षो में कही एक बार इंसान के रूप में जन्म होता है ऐसे में लोग अपनी जिन्दगी के साथ खिलवाड़ करते है जो बहुत ही गलत है। पहले के लोग तो ऐसे नही थे पर आज के समय में परिवार में थोड़ी सी अगर कहासुनी हुई तो अधिकतर लोग आत्म-हत्या करने का प्रयास करने लगते है, जो कि घोर आपराध है, जिसे ह”त्या करने से भी बड़ा अपराध माना जाता है। अपनी जान देने वाले लोग कभी-कभी अपने घरवालों के संबंध में भी कुछ नही सोचते है। आज भी एक ऐसा ही मामला सुनने में आ रहा है, जिसके अनुसार MBBS के एक छात्र ने की आ”त्महत्या, उसके iPad से मिला 5 पेज का सुसाइड नोट, जिसे देख सभी हुये हैरान।

दरअसल आज जिस घटना की बात की जा रही है, वह घटना हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले की है जहां पर 25 साल के MBBS स्टूडेंट के आत्महत्या मामले में अब अमन बरागटा का सुसाइड नोट सामने आया है, बता दें कि अमन ने जयपुर SMS मेडिकल कॉलेज में सुसाइड से पहले MBBS स्टूडेंट अमन ने अपने आईपेड में सुसाइड नोट लिखा था, 5 पेज के सुसाइड नोट में उसने अपना दर्द बयां किया है, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अमन ने खुद को निर्दोष बताते हुए किसी युवती पर भी गलत होने का आरोप लगाया है, अमन ने लिखा, मैं गलत था तो तू भी सही नहीं थी, सुसाइड नोट अंग्रेजी और हिंदी दोनों ही भाषा में लिखा है, पुलिस सुसाइड नोट के आधार पर अमन के दोस्तों से पूछताछ कर रही है, गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश निवासी अमन बरागटा ने शनिवार 9 जुलाई को देर रात सुसाइड किया था, वह SMS मेडिकल कॉलेज के कोठारी हॉस्टल में रहता था, SMS हॉस्पिटल थाने के SHO नवरतन धोलिया ने बताया कि थर्ड ईयर में पढ़ रहे अमन ने सुसाइड से पहले रात 11:18 बजे अपने आईपैड में सुसाइड नोट लिखा था, परिवार की मौजूदगी में एक कॉपी में लिखे पासवर्ड से आईपैड खोला गया और आईपैड में 5 पेज का सुसाइड नोट मिला है।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि इस सुसाइड नोट में लिखा है कि “आई एम सॉरी मम्मा पापा, आशा, भानिये, सिमरन, सुरेश और योगेश, सिमरन रियली सॉरी, तूने समझाय़ा था, मैं नहीं माना, मैं उस परिवार से आता हूं, जहां उनकी सेल्फ रिस्पेक्ट जिंदगी से प्यारी है, तुम्हारे मुताबिक यह छोटी बात होगी, लेकिन मैं बहुत परेशान हो गया हूं, मेरी गलती नहीं है, उसने मुझे छोड़ दिया, यही वो चाहती थी, उसने सब कुछ तहस नहस कर दिया, कितना भी झूठ बोल ले, मेरी गवाही मेरी जिंदगी दे रही है, सुसाइड नोट अमन ने लिखा कि मुझे फंसाया गया है और मैं गलत नहीं हूं,

दरअसल, 25 साल के शिमला जिले रोहड़ू के अमन बरागटा ने बीते शनिवार को राजस्थान के जयपुर में एसएमएस मेडिकल कॉलेज में सुसाइड कर लिया था, एमबीबीएस की पढ़ाई करने वाले अमन फंदा लगाकर खुदकुशी की थी, अमन थर्ड ईयर का स्टूडेंट था और शिमला के रोहडू जिले का रहने वाला था, बीते शनिवार को उसका शव मेडिकल कॉलेज के पास स्थित हॉस्टल के बंद कमरे में मिला, शनिवार सुबह 11 बजे तक छात्र कमरे से बाहर नहीं लौटा, तब उसके साथी स्टूडेंटस को चिंता हुई, उन्होंने कमरे का दरवाजा तोड़कर देखा तो मेडिकल स्टूडेंट कमरे में पंखे के कड़े से फंदे पर लटकता हुआ नजर आया था, फिलहाल, सुसाइड नोट से पता चलता है कि पूरा मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा हुआ है, पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। इस जानकारी के संबंध में आप लोगों कि क्‍या प्रतिक्रियायें है? कमेंट बॉक्‍स में अवश्‍य लिखें। मित्रो अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

About Rinku

Leave a Reply

Your email address will not be published.