free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / चौथी पास बुजुर्ग ने अपने परिवार के 11 लोगो को बनाया बड़े अधिकारी, IPS से लेकर IAS समेत 11 सदस्य बड़े उच्च स्तर के अफसर

चौथी पास बुजुर्ग ने अपने परिवार के 11 लोगो को बनाया बड़े अधिकारी, IPS से लेकर IAS समेत 11 सदस्य बड़े उच्च स्तर के अफसर

आज के दौर में हर एक  व्यक्ति का  सपना होता है कि वह एक IAS IPS अधिकारी जैसे पद पर नियुक्त हो पर बहुत ही कम लोग होते हैं जिनका यह सपना पूरा हो पाता है पर अगर हम आपसे कहें की चौथी पास सदस्य के परिवार से 11 अफ़सरों की नियुक्ति हुई तो आप मानेंगे। आज की यह कहानी Haryana की ज़िद ज़िले में रहने वाले एक ऐसे परिवार की है जिस परिवार के सदस्य बड़े बड़े पद पर  नियुक्त है।

यह सपना घर के मुखिया का था

Haryana के जींद ज़िले में रहने वाले परिवार के मुखिया चौधरी बसंत सिंह का  यह सपना था कि घर के  जितने भी बच्चे हैं वह सब बड़े बड़े  अधिकारी बने और हैरत की बात तो यह है कि वह ख़ुद चौथी पास थे और उन्होंने अपने बच्चों के लिए यह सपना देखा था और उन्होंने बहुत ही कठिन परिश्रम से अपने सभी बच्चों को पढ़ाया लिखाया हालाँकि उनके बच्चों ने भी उनकी मेहनत का मान  रखा और बड़े बड़े पदों पर नियुक्त होकर घर के मुखिया की लाज रखी और उनका सपना पूरा किया ।

घर के 11 सदस्य अधिकारी है

ख़बरों के अनुसार उनका बड़ा  बेटा  हूँ राज कुमार  एक college में professor है और उनका छोटा बेटा एक IAS अधिकारी के  पद पर  नियुक्त है।  इस प्रकार उनकी बेटी भी रेलवे मैं एक अच्छे अधिकारी के पद पर तैनात है इस प्रकार घर  के  11 सदस्य अलग  अलग पदों पर  नियुक्त है।

99 वर्ष की उम्र में हुआ निधन

हालाँ कि दुखद बात यह है कि चौधरी बसंत सिंह यानी घर के मुखिया जिन्होंने अपने घर के  11 सदस्यों को बड़े  बड़े  पदों पर  नियुक्ति दिलवाई आज उनके साथ नहीं है। इस वर्ष मई माह में चौधरी बसंत सिंग का देहांत हो गया उनकी उम्र लगभग 99 वर्ष की होगी।  यह ख़बर सुनकर घर के सभी सदस्य बहूत

उन्होंने अपने बच्चों को पढ़ाने के  लिए बहुत कठिन परिश्रम किया  था और  अपने सपने को अपने बच्चों के  ज़रिए पूरा करने के  लिए उन्होंने दिन रात एक कर दिया था।  हालाँ कि घर  के सभी सदस्य इस बात से बहुत दुखी हुए कि उनके घर  के  मुखिया अब उनके साथ नहीं है। उनके बच्चों ने  बताया कि चौधरी बसंत सिंग उनके लिए एक प्रेरणा का काम किया जब  – जब वह हार मानने लगते थे।  तो चौधरी बसंत सिंह उन्हें आत्मविश्वास से भर  दिया करते थे।

और उनकी सभी बच्चों को उन पर  बहूत गर्व है आज पूरा परिवार बड़े बड़े  अधिकारी के पद पर नियुक्त है तो यह चौधरी बसंत सिंह की मेहनत का फल है।  और उनके परिवार के  सदस्य हैं इस बात पर  बहुत गर्व करते हैं वह कहते हैं कि उनके घर  के मुखिया आज बेशक़ उनके साथ नहीं है पर उनके दिल में हमेशा रहेंगे और उनके परिवार को हमेशा चौधरी बसंत सिंह  के नाम से ही जाना जाएगा आज पूरा परिवार उन पर  गर्व करता है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.