free tracking
Breaking News
Home / देश दुनिया / 1 सितंबर से लागू होगा अनलॉक 4, तुरंत जानिये क्या रहेगा खुला , क्या रहेगा बंद

1 सितंबर से लागू होगा अनलॉक 4, तुरंत जानिये क्या रहेगा खुला , क्या रहेगा बंद

देश में कुल कोरोना केस के आंकड़ 31.50 लाख के पार कर चुके हैं। इस बीच रिकवरी रेट में भी तेजी से वृद्धि दर्ज की जा रही है। अब तक 24 लाख से ज्यादा कोविड-19 मरीज ठीक हो चुके हैं। इस बीच केंद्र सरकार अनलॉक 4 के ऐलान की भी संभावना जताई जा रही है। इसके तहत 1 सितंबर से देशभर में कुछ और गतिविधियों की छूट मिलने की उम्मीद की जा रही है। कोलकाता, दिल्ली और मुंबई जैसे महानगरों की मेट्रो ट्रेनें मार्च से ही बंद पड़ी हैं। हालांकि, कोविड-19 महामारी की स्थिति को देखते हुए राज्यों को फैसला लेना होगा कि मेट्रो खोले जाएं या नहीं।

कहा जा रहा है कि अनलॉक 4 की गाइडलाइंस में केंद्र सरकार सिर्फ प्रतिबंधित गतिविधियों की लिस्ट जारी करेगी। इस लिस्ट में जिन गतिविधियों को शामिल नहीं किया जाएगा, उन्हें बहाल करने की अनुमति होगी। अब तक मेट्रो रेल सर्विस, सिनेमा हॉल, स्वीमिंग पुल, एंटरटेनमेंट पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल और भीड़-भाड़ वाली ऐसी ही जगहें प्रतिबंधित हैं। इसके साथ ही, सामाजिक, राजनीति, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजन पर भी पाबंदी लगी हुई है। आइए जानते हैं कि अगले अनलॉक 4 और उसके बाद दीपावली तक देश में किन-किन गतिविधियों पर से प्रतिबंध हटने की उम्मीद है…

​फिर से पटरी पर दौड़ सकती है मेट्रो

दिल्ली में 1 सितंबर से ही मेट्रो के परिचालन की अनुमति दी जा सकती है। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (DMRC) ने रविवार को एक बयान जारी कर कहा कि जब भी सरकार निर्देश देगी, वह परिचालन बहाल करने को तैयार है। डीएमआरसी के कार्यकारी निदेशक अनुजा दयाल ने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए जारी सभी दिशानिर्देशों को लागू किया जाएगा और यात्रियों की सुरक्षित यात्रा के लिए सभी कदम उठाए जाएंगे। वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी रविवार को कहा था कि उन्होंने केंद्र सरकार से अनुरोध किया है कि दिल्ली को बाकी राज्यों से थोड़ा अलग समझा जाए। यहां अब कोरोना की स्थिति ठीक हो रही है। बाकी राज्य में मेट्रो नहीं खोलना चाहते हैं, न खोलिए लेकिन दिल्ली में चरणबद्ध तरीके से मेट्रो को चलने की अनुमति दी जाए। चाहे ट्रायल के आधार पर ही अभी अनुमति दी जाए। राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए 22 मार्च से मेट्रो सेवाओं को निलंबित कर दिया गया था। सूत्रों के मुताबिक इससे डीएमआरसी को करीब 1,300 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

सामान्य हो जाएगी हवाई यात्रा

दिवाली तक एयर ट्रैफिक भी पूरी तरह सामान्य होने की संभावना है। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने उम्मीद जताई कि दिवाली तक कोविड-19 महामारी से पहले वाली स्थिति आ जाएगी। उन्होंने कहा कि तब तक केंद्र सरकार मुंबई, कोलकाता जैसी जगहों से और ज्यादा उड़ानों की अनुमति दे देगा जिससे यात्रियों की संख्या भी बढ़ेगी। पुरी ने कहा, ‘रविवार को घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या 98,800 थी। यानी, हम कोरोना से पहले की कुल यात्रियों के 33% तक पहुंच चुके हैं। हम हर सप्ताह 5,000 यात्रियों की उड़ान क्षमता बढ़ा रहे हैं।’

उच्च शैक्षणिक संस्थानों को मिल सकती है अनुमति

सूत्रों की मानें तो केंद्र सरकार अनलॉक 4.0 में भी स्कूल खोलने पर विचार नहीं कर रही है। हालांकि, कुछ राज्य उच्च शैक्षणिक संस्थानों को खोलने का सुझाव दे रहे हैं। ऐसे में स्कूलों का खुलना तो लगभग नाममुकिन है, लेकिन आईआईट-आईआईएम समेत तमाम कॉलेज और यूनिवर्सिटियों को खोलने की अनुमति मिल सकती है। संभव है कि कुछ राज्य उच्च शिक्षण संस्थानों में भी शैक्षणिक गतिविधियों पर प्रतिबंध आगे भी कायम रखें।

​​खुल सकते हैं सिनेमा हॉल

फिल्म शूटिंग के लिए गाइडलाइंस जारी करने के बाद केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय अब सिनेमा हॉल खोलने के लिए विस्तृत दिशानिर्देश तैयार करने कर रहा है। कुछ दिनों में गाइडलाइंस सामने आने के बाद शर्तों के साथ सिनेमा हॉल खुल सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक, स्वास्थ्य मंत्रालय की राय लेकर सिनेमा हॉल खोलने की गाइडलाइंस तैयार की जा रही है और यह फाइनल स्टेज में है। मार्च महीने से ही पूरी दुनिया में मूवी थिएटर बंद पड़े हैं। हालांकि, कई देशों में ये दुबारा खुल चुके हैं।

धड़ल्ले से होगी फिल्मों, धारावाहिकों की शूटिंग

उधर, सीरियलों और फिल्मों की शूटिंग शुरू हो चुकी है। लाइन प्रॉड्यूसरों ने मुंबई में शूटिंग शुरू कर दी है। दिल्ली-एनसीआर में अब तक विज्ञापनों की शूटिंग ही हुई है। इसी महीने सान्या मल्होत्रा ने दिल्ली में एक ऐडवर्टिजमेंट की शूटिंग की थी। हालांकि, सरकार की शर्तें पूरी करते हुए यहां भी जल्द ही बाकी शूटिंग भी शुरू होने के आसार हैं। ध्यान रहे कि केंद्र सरकार ने 23 अगस्त को टीवी-फिल्‍मों के लिए शूटिंग की खातिर विस्‍तृत गाइडलाइंस जारी की थी।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को एसओपी ट्वीट कर बताया कि इससे क्रू के लिए सुरक्षित माहौल बनाने में मदद मिलेगी। गाइडलाइंस में सभी जगहों पर फेस मास्‍क के प्रयोग और फिजिकल डिस्‍टेंसिंग को अनिवार्य किया गया है। यह एक्‍टर्स पर लागू नहीं होगा। सीटिंग, कैटरिंग, क्रू पोजिशंस, कैमरा लोकेशंस में दूरी बनाकर रखनी होगी। रिकॉर्डिंग स्‍टूडियोज, एडिटिंग रूम्‍स में भी फिजिकल डिस्‍टेंसिंग का पालन करना होगा। फिलहाल सेट्स पर ऑडियंस को आने की परमिशन नहीं दी गई है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.