free tracking
Breaking News
Home / देश दुनिया / राम मंदिर का जश्न मनाते समय बन गया ऐसा माहौल की लगाना पड़ गया क-र्फ्यू

राम मंदिर का जश्न मनाते समय बन गया ऐसा माहौल की लगाना पड़ गया क-र्फ्यू

अयोध्या में श्री राम मंदिर भूमि पूजन समारोह को लेकर बुधवार (05 अगस्त, 2020) को रात 10 बजे दो समु-दायों के बीच हुई झ-ड़प में कई लोगों के घा-यल होने के बाद 5 अगस्त (बुधवार) की रात से ही क-र्फ्यू लगा हुआ है। असम के सोनितपुर जिले के थलमारा और ढेकियाजुली पुलिस स्टेशनों के अधिकार क्षेत्र में आने वाले क्षेत्रों में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत अनिश्चितकालीन क-र्फ्यू लगा दिया गया है और निषे-धाज्ञा लागू की गई है।

बताया जा रहा है कि भूमिपूजन की खुशी में, स्थानीय बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने ‘जय श्री राम’ के नारे लगाते हुए निकटतम शिव मंदिर तक एक रैली निकाली। एक मुस्लि-म समु-दाय भी इस रास्ते के बीच में बसता है। यहां बांग्लादेशी सहित मुस्लि-म यु-वकों ने भी धार्मिक नारे लगाने और डीजे बजाने से रोका। यही नहीं, पाकि-स्तान के समर्थन में नारे भी लगाए गए और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के साथ झ-ड़पें हुईं और उनके वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया गया। मुस्लिम युवाओं ने बजरंगदल के लगभग 25 कार्यकर्ताओं को बं-धक बना लिया और पुलिस अधिकारियों को वहां पहुंचना पड़ा।

सोनितपुर में झ-ड़प में, बजरंग दल के लगभग 12 कार्यकर्ता, विश्व हिंदू परिषद और राम सेना घा-यल हो गए, जबकि कई बाइक और चार पहिया वाहन ज-ल गए। संघर्ष में सोनितपुर के उपायुक्त (डीसी) मानवेन्द्र प्रताप सिंह का वाहन भी क्ष-तिग्र-स्त हो गया।

खबरों के मुताबिक, जिला मजिस्ट्रेट मानवेन्द्र प्रताप ने कहा कि थलपारा और ढेकियाजुली पुलिस थानों के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों ‘गोरुदुबा और भैरिंगोरी’ पर मौजूदा परिस्थितियों के कारण कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कड़ी निगरानी की जा रही है। परिस्थितियों को देखते हुए, जिला प्रशासन के अनुरोध पर सेना ने गुरुवार (06 अगस्त, 2020) को अशांत क्षेत्रों में फ्लैग मार्च किया। जिले के थलमारा और ढेकियाजुली पुलिस थानों के अधिकार क्षेत्र में अनिश्चितकालीन क-र्फ्यू लगाया गया है। सोनितपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नुमल मेहता ने कहा कि दो लोगों को पूछताछ के लिए पहले ही हिरा-सत में लिया जा चुका है। कल रात से किसी अप्रिय घ-टना की कोई रिपोर्ट नहीं थी और स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है।

दरअसल, बुधवार को अयोध्या में श्री राम मंदिर के भूमिपूजन समारोह को मनाने के लिए बाइक रैली आयोजित करने वाले बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के बाद असम में तनाव बढ़ गया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार, “स्थानीय लोगों ने अपने क्षेत्र में जोर से संगीत बजाने वाले लोगों पर आपत्ति जताई। उन्होंने यह भी पूछा कि जब लोग महामारी से ल-ड़ रहे थे तो रैली का आयोजन क्यों किया गया। इससे एक बहस छिड़ गई, जिसके परिणामस्वरूप अंततः भया-नक हिं-सक झ-ड़पें हुईं। ”

स्थिति को नियंत्रित करने के लिए मौके पर पहुंचे सोनितपुर जिले के उपायुक्त मानवेन्द्र प्रताप सिंह पर भी दोनों समूहों द्वारा कथित रूप से ह-मला किया गया था। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि झ-ड़प को सांप्र-दायिक टक-राव में बदलने के बाद स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने पहले ला-ठीचार्ज का सहारा लिया और फिर हवा में गो-ली बारी की। सिंह ने कहा कि जब वाहनों को ज-लाया गया तो वहां अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। इस बीच, जिला मजिस्ट्रेट कीर्ति जली ने कहा कि चरम पं-थी तत्वों को बांग्लादेश से कछार जाने और कानून-व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए धारा 144 लगाई गई है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.